चिपचिपे जाल को फ़सल के चारों ओर लगाने से फायदे!

/media/tips/images/strick-trap-tips-khetiwadi.jpg
फसलों में अनेक प्रकार के रस चूसने वाले कीटों का प्रभाव देखा जाता है, जिसे रोकने के लिए किसान तरह-तरह के कीटनाशको का उपयोग करते हैं, जिससे पर्यावरण और फसल दोनों को नुकसान पहुँचता है। ऐसी परिस्तिथि में चिपचिपे जाल के उपयोग से फसलों में रस चूसक कीटों द्वारा होने वाले नुकसान को कम किया जा सकता है। केमिकल युक्त कीटनाशकों से कीट प्रभाव की रोकथाम में बहुत सी मुसीबतें सामने आती हैं, जिसमें सबसे महत्वपूर्ण कृषि पर्यावरण को कई प्रकार के नुकसान होते हैं। केमिकल युक्त कीटनाशकों के उपयोग के बजाय अगर किसान स्टिकी ट्रैप का उपयोग करे तो वह इन सभी समस्याओं से बच सकते हैं। चिपचिपे जाल एक प्रकार की रंगीन शीट होती हैं जो कई अलग अलग रंगो में आती है, यह फसल को क्षति पहुंचाने वाले रस चूसक कीटों को अपनी ओर आकर्षित करने के लिए खेत में फ़सल के चारों ओर लगाई जाती है। जिससे फसलों पर नुक़सान करने वाले कीटों से फ़सल की सुरक्षा हो जाती है तथा इसे लगाने से खेत का मुआयना भी हो जाता है की फ़सल में किस -किस प्रकार के कीटों का प्रभाव चल रहा है। इसके साथ ही इसकी लागत का कम होना, इसे लगाना भी आसान है, लगाने में समय तथा मेहनत की बचत, नियंत्रण भी कीटनाशक से बेहतर, रस चूसक कीटों से फ़सल की सुरक्षा के कारण फसल की गुणवत्ता तथा उपज में बड़ोतरी। आख़िर किस प्रकार काम करता है स्टिकी ट्रैप सभी कीट किसी न किसी विशेष प्रकार के रंग की ओर आकर्षित होते है। अब अगर उसी को ध्यान में रखते हुए उसी रंग की स्टिकी ट्रैप की शीट पर कोई चिपचिपा पदार्थ उस पर लगाकर फसल की ऊंचाई से लगभग एक फीट ऊंचाई पर इसे लगा दिया जाए तो कीट उस रंग से आकर्षित होकर इस स्टिकी ट्रैप की शीट पर चिपक जाएँगे। फिर यह आपकी फसल को नुकसान नहीं पहुंचा पाएँगे । किसानों के लिए लाभ कीटों का समय पर पता लगाने के लिए। कीट प्रकोप के जोखिम को कम करने के लिए। हॉट स्पॉट की पहचान करने के लिए। छिड़काव के समय व्यवस्थित करने के लिए।

Analyze Mandi Bhav

Today Mandi Bhav

View More Agriculture Tips

भिंडी में फूलों की मात्रा ऐसे बढ़ाएं

4.59 K

2 minutes ago

भिंडी की फसल की बढ़वार व अच्छे विकास के लिए पोषक तत्व

6.08 K

3 minutes ago

सोयाबीन की फसल में अधिक फलियाँ प्राप्त करने हेतु!

4.58 K

3 minutes ago

प्याज की फसल में निराई -गुड़ाई प्रबंधन!

4.14 K

7 minutes ago

संतरे पिले होकर गिर रहे है ?

3.61 K

7 minutes ago

वर्मीकम्पोस्ट कैसे बनता है?

955

30 minutes ago

अमेरिका मे फसल केसे बेची जाती है ?

1.71 K

an hour ago

संतरा में अधिक उत्पादन के लिए

5.5 K

2 hours ago

मिट्टी गुणवत्ता परीक्षण के फ़ायदे

625

2 hours ago

प्याज में सल्फर का महत्व!

12 K

2 hours ago

संतरे के फूल गिरने से केसे बचाए

1.44 K

3 hours ago

मूंगफली का उत्पादन कैसे बढ़ाएं?

20.3 K

3 hours ago

पुराने समय ओर आज के समय मे खेती करने मे कितना बदलाव आया है ?

1.66 K

4 hours ago

मूंग के पत्ते काले हो रहे हैं क्या कारण है ?

4.15 K

4 hours ago

सोयाबीन में पत्ती खाने वाली इल्ली का प्रबंधन!

3.34 K

4 hours ago

सोयाबीन की फसल में फूल एवं फलियों का गिरने से रोकना!

6.32 K

5 hours ago

चने की दो नई क़िस्मों से अब होगा किसानों का फायदा ही फायदा !

2.81 K

5 hours ago

सोयाबीन की फसल में तम्बाखू इल्ली का रोकथाम !

4.98 K

6 hours ago

क्या लहसुन का भाव ओर बड़ सकता है ?

2.15 K

6 hours ago

सोयाबीन फलियों की उचित वृद्धि के लिए!

4.83 K

8 hours ago

कसुरी मेथी क्या है, स्वास्थ्य के लिए इसका उपयोग

2.84 K

8 hours ago

सोयाबीन में गर्डल बीटल कीट से होने वाले नुकसान एवं प्रबंधन!

9.27 K

9 hours ago

मल्चिंग तकनीक से खेती करने का फायदा

2.77 K

10 hours ago

नवीनतम फसल कवर तकनीक क्या हैं?

2.86 K

10 hours ago

अमरूद ( जामफल ) में फल मक्खी का नियंत्रण

3.67 K

10 hours ago

धनिया की फसल को पाले से केसे बचाएं!

11.21 K

11 hours ago

पॉलीहाउस या ग्रीनहाउस क्या होता ? क्या इसकी खेती करना आसन होता है?

614

11 hours ago

फसल चक्रण

582

12 hours ago

प्याज में उर्वरक प्रबंधन

4.98 K

14 hours ago

आधुनिक खेती , मॉडर्न फार्मिंग

867

15 hours ago